Kathmandu- Summary in Hindi – Full Text

By | July 20, 2021

KATHMANDU

 ByVikram Seth

Summary in Hindi/ – KATHMANDU

SUMMARY IN  HINDI

 इस पाठ में विक्रम सेठ नेपाल की राजधानी काठमांडु की अपनी यात्रा की यादों को तरोताजा करता है ।
वह उस शहर के दो प्रसिद्ध मंदिरों का वर्णन करता है । पहला हिंदुओं का पशुपतिनाथ मंदिर है और दूसरा बौद्धों का बौद्धनाथ स्तूप है । पशुपतिनाथ मंदिर में अव्यवस्था का वातावरण है । वह वहां पर घूमते हुए पंडित ,फेरीवाले ,भक्त ,पर्यटक ,गाएँ ,बंदर ,कबूतर और कुत्ते देखता है । वहाँ भक्तों की भीड़ है और लोग भगवान् की प्रतिमा तक जाने के लिए एक –दूसरे को धक्के मारते हैं ।


इस मंदिर में केवल हिंदुओं को प्रवेश की अनुमति है । पश्चिमी देशों के लोगों का एक समूह अंदर आने की  अनुमति के लिए संघर्ष करता है । मगर गेट पर खड़ा सिपाही उन्हें अंदर नहीं जाने देता । लेखक बंदरों को आपस में लड़ता देखता है । मंदिर के साथ पवित्र नदी बागमती बहती है । वह इसके किनारों पर धोबिनों को देखता है । इसके किनारे पर एक लाश का दाह-संस्कार हो रहा है छज्जे से भक्तगण नदी में फूल एवं अन्य भेंट की वस्तुएँ गिराते हैं । नदी के किनारे एक छोटा-सा मंदिर भी है । आधा मंदिर नदी में डूबा हुआ है। ऐसा माना जाता है कि जब सारा मंदिर नदी में से बाहर आ जाएगा तो अंदर की देवी बाहर आ जाएगी । तब धरती पर कलयुग का पापी समय समाप्त हो जाएगा ।
पशुपतिनाथ मंदिर के विपरीत बौद्धों के बौद्धनाथ स्तूप पर खामोशी है । लेखक को वहाँ कोई भीड़ नजर नहीं जाती है । इसका बहुत बड़ा सफेद गुंबद है । मंदिर के चारों तरफ एक सड़क है । इसके बाहरी किनारे पर छोटी-छोटी दुकानें हैं । इनमें से  बहुत सी दुकानें तिब्बती प्रवासियों द्वारा चलाई जा रही हैं ।
काठमांडु भीड़भाड़ वाला स्थान है । इन दो प्रसिद्ध मंदिरों के अतिरिक्त तंग एवं व्यस्त गलियों में बहुत – से मंदिर हैं । लेखक को वहाँ फल बेचने वाले , बांसुरियाँ बेचने वाले , पोस्टकार्ड बेचने वाले, पश्चिमी सौंदर्य प्रसाधन, फ़िल्में , चॉकलेट आदि बेचने वाली दुकानें नजर आती हैं । वह लक्ष्यहीन रूप से बाजार में घूमता है । तब लेखक घर लौटने का मन बनाता है । वह नेपाल एयरलाईज़ के एक कार्यालय में जाता है और दिल्ली के लिए एक टिकट खरीदता है । वह वापिस अपने होटल आता है। होटल के नज़दीक के चौराहे के एक कोने में   वह एक बांसुरी बेचने वाला देखता है । ये बांसुरियाँ बांस की बनी हैं । समय-समय पर बांसुरी वाला एक बांसुरी बजाता है । लेखक को उसका मस्त तरीका  लगता हैं । उसे वहाँ से चले जीना कठिन प्रतीत होता है । वास्तव में,बांसुरी का संगीत उसे सदा आकर्षित करता है । बांसुरी एक सामान्य वाद्य यंत्र है । यह लगभग हर संस्कृति में पाई जाती है । बाँसुरी उसे सारी मानवता की साझी कड़ी की याद दिलाती है ।

Want to Read More Check Below:-

Kathmandu- Introduction

Kathmandu- Theme, Title & Message

Kathmandu- Important Word-Meanings of difficult words

Kathmandu- Short & Detailed Summary

Kathmandu- Extract Based comprehension test Questions

Kathmandu- Passages for Comprehension

Kathmandu- Important Extra Questions- Very Short Answer Type

Kathmandu- Important Extra Questions- Short Answer Type

Kathmandu- Important Extra Questions- Long Answer Type

Kathmandu- Quick Review of the Chapter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.