NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitiz Chapter – 12 कैदी और कोकिला

By | January 19, 2021

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitiz Chapter 12 कैदी और कोकिला यहाँ सरल शब्दों में दिया जा रहा है| NCERT Hindi book for class 9 kshitij Solutions के Chapter 12 कैदी और कोकिला को आसानी से समझ में आने के लिए हमने प्रश्नों के उत्तरों को इस प्रकार लिखा है की कम से कम शब्दों में अधिक से अधिक बात कही जा सके| इस पेज में आपको NCERT solutions for class 9 hindi kshitij

दिया जा रहा है|

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitiz Chapter 12 कैदी और कोकिला

प्रश्नअभ्यास

1.कोयल की कूक सुनकर कवि की क्या प्रतिक्रिया थी?

उत्तर:- कोयल की कूक सुनकर कवि को लगा कि जैसे वह किसी का सन्देश लायी है | इसलिए कवि उससे उस जरूरी संदेश के बारे में पूछता है।

कोयल की कूक

2. कवि ने कोकिल के बोलने के किन कारणों की संभावना बताई है?

उत्तर:- कवि ने आधी रात में कोकिल के कूकने के निम्नलिखित अनुमान लगाएं-

1. कोकिला कोई संदेश देना चाहती है।

2. समस्या अत्यंत गंभीर है। इसलिए वह सुबह होने की प्रतीक्षा नहीं कर पाती।

3. उसने दावानल की ज्वालाएं देख ली है।

4. वह कवि के क्रांतिकारी हृदय में विद्रोह भरने आई है।

5. रात की कालिमा के सहारे अपने काले कष्ट को दूर करना चाहती है।

3. किस शासन की तुलना तम के प्रभाव से की गई है और क्यों?

उत्तर:- अंग्रेजी शासन की तुलना तम के प्रभाव से की गई है। क्योंकि अंधेरा काला होता है; और उसके प्रभाव के कारण कुछ नहीं सूझता। अंग्रेजों की गुलामी के शासन से मुक्ति का कोई मार्ग नहीं सूझ रहा था। इसी कारण कवि ने अंग्रेजों के शासन की तुलना तम के प्रभाव से की है।

4. कविता के आधार पर पराधीन भारत की जेलों में दी जाने वाली यंत्रणाओं का वर्णन कीजिए।

उत्तर:- कविता के अनुसार जब भारत अंग्रेजों के अधीन था ,तब भारतीय कैदियों को तरह तरह की यातनाएं दी जाती थीं | वहां उन्हें जंजीरों से बांधकर रखा जाता था, कोल्हू के बैल की तरह काम करवाया जाता था व खाना भी नहीं दिया जाता था।

5. भाव स्पष्ट कीजिए

(). मृदुल वैभव की रखवालीसी, कोकिल बोलो तो!

(). हूँ मोट खींचता लगा पेट पर जूआ, खाली करता हूं ब्रिटिश अकड़ का कूआं।

उत्तर:- (). प्रस्तुत पंक्तियों में कवि कहता है कि कोयल को म्रदुल वैभव की रखवाली करने वाली कहा गया है,क्यूंकि  कोयल अपने कंठ से मीठी आवाज की रक्षा करती है |लेकिन जब कोयल जेल में वेदनापूर्ण आवाज में बोलती है तब कवि उससे उसकी वेदना का कारण पूछता है |

(). यहां कवि कहता है कि अंग्रेज़ी सरकार कवि से पशुओं के समान परिश्रम करवाते हैं। कवि के पेट पर जुआ बाँधकर कुँए से पानी निकाला जाता है। परन्तु इससे भी वे दु:खी नहीं होते तथा अंग्रेज़ी सरकार के षड़यंत्र को विफल कर उनकी अकड़ को समाप्त कर देना चाहते हैं।

इस पेज में आपको NCERT solutions for class 9 hindi kshitij दिया जा रहा है| हिंदी क्षितिज के दो भाग हैं | Hindi Kshitij क्षितिज भाग 1 सीबीएसई बोर्ड द्वारा class 9th के लिए निर्धारित किया गया है | इस पेज की खासियत ये है कि आप यहाँ पर ncert solutions for class 9 hindi kshitij pdf download भी कर सकते हैं| we expect that the given class 9 hindi kshitij solution will be immensely useful to you.

6. अर्धरात्रि में कोयल की चीख से कवि को क्या अंदेशा है?

उत्तर:- आधी रात में कोकिला की चीख से कवि को यह आशंका होती है कि कोकिला को किसी प्रकार का कष्ट है।या  वह जरूर उन्हें कोई जरूरी सूचना देने आई है। यह भी हो सकता है कि देश में  कहीं कुछ गलत हो रहा है, जिससे वह व्याकुल होकर चीख रही है और ऐसा भी हो सकता है कि वह कवि के क्रांतिकारी हृदय में विद्रोह की भावना को बढ़ाने आई है।

7. कवि को कोयल से ईर्ष्या क्यों हो रही है?

उत्तर:- कवि को कोयल की आजादी से ईर्ष्या हो रही है।क्यूंकि वह पूरे आसमान में स्वतंत्रतापूर्वक उड़ान भर रही है, जबकि कवि के पास घूमने के लिए सिर्फ दस फुट की जगह है;कोयल गाकर अपने आनंद को प्रकट कर सकती है , जबकि कवि का रोना भी गुनाह है; व उसके पास बैठने के लिए हरी-भरी डाली है और कवि के पास काली कोठरी है, इसलिए कवि को कोकिल से ईर्ष्या हो रही है।

8. कवि के स्मृतिपटल पर कोयल के गीतों की कौनसी मधुर स्मृतियां अंकित हैं, जिन्हें वह अब नष्ट करने पर तुली है?

कोयल के गीतों

उत्तर:- कवि के स्मृति-पटल पर कोयल के गीतों की कुछ मधुर स्मृतियाँ अंकित हैं। कोयल हरी डाली पर बैठकर अपनी मधुर वैभवशाली आवाज़ से संपूर्ण सृष्टि को अलंकृत करती है, उसके मधुर गीतों से उसकी खुशी झलकती है|लेकिन अब वह बावली-सी होकर आधी रात को चीख रही है, जिससे कवि के स्मृति-पटल से उसकी अच्छी स्मृतियां नष्ट हो रही है।

9. हथकड़ियों को गहना क्यों कहा गया है?

हथकड़ियों को गहना

उत्तर:- स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ रहे सेनानी हथकड़ियों को ही अपना आभूषण मानते थे इसलिए भी इन्हें यहाँ गहना कहा गया है |स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने के फलस्वरूप मिली हथकड़ियां भी उन सबको गहनों जैसी प्रतीत होती थी। इसलिए कवि ने हथकड़ियों को ‘गहना’ शब्द से संबोधित किया है।

10. ‘काली तू……. ऐ काली!’- इन पंक्तियों में कालीशब्द की आवृत्ति से उत्पन्न चमत्कार का विवेचन कीजिए।

उत्तर:- प्रस्तुत पंक्तियों में कवि ने एक ही शब्द ‘काली’ को अलग अलग तरीके से प्रयोग किया है। इस शब्द के अलग-अलग अर्थ निकलते हैं और उनके आधार पर ही कवि ने इन पंक्तियों में इसका प्रयोग किया है। यह शब्द- कहीं कोयल के रंग के लिए, कहीं रात्रि के अंधकार के लिए, कहीं अंग्रेजी सरकार के अन्यायपूर्ण शासन के लिए, कहीं निराशाजनक व काले वातावरण के लिए और कहीं अंग्रेजों के बुरे विचारों के लिए प्रयुक्त हुआ है।

11. काव्य सौंदर्य स्पष्ट कीजिए

(). किसी दावानल की ज्वालाएं हैं दिखीं?

(). मेरे गीत कहावें वाह, रोना भी है मुझे गुनाह!

देख विषमता तेरीमेरी, बजा रही तिस पर रणभेरी!

उत्तर:- (). काव्यसौंदर्य

1.रचनात्मक शैली का प्रयोग

2. खड़ी बोली का प्रयोग

3. विम्बात्मक शैली का प्रयोग

4. सहज व सरल शब्दों का प्रयोग

5. प्रश्नातक शैली का प्रयोग

(). काव्यसौंदर्य

1.शुद्ध खड़ी बोली का उपयोग

2. तुकबंदी का प्रकार

3. रूपक अलंकार

4. तत्सम शब्दावली का प्रयोग

5. सरल भाषा का प्रयोग

6. अनुप्रास अलंकार का प्रयोग

7. आजादी की भावना से युक्त कविता

रचना और अभिव्यक्ति

12. कवि जेल के आसपास अन्य पक्षियों का चहकना भी सुनता होगा लेकिन उसने कोकिला की ही बात क्यों की है?

उत्तर:- कवि ने निश्चित रूप से जेल के आसपास अन्य पक्षियों का चहकना सुना होगा, पर वे दिन के उजाले मेंकवि जेल के आसपास अन्य पक्षियों का चहकना चहकते होंगे। वे आधी रात के अंधकार में नहीं चहके होंगे। कोकिला रात को तब चहकती थी, जब कवि अपनी पीड़ा की गहराई को अनुभव कर रहा था। उसे ऐसा प्रतीत हुआ कि उसकी तरह कोयल भी स्वयं को देश रूपी कारागार में अनुभव कर रही है। कोयल बाहर रो रही थी और कवि कारागार के भीतर। इसलिए कवि ने कविता में कोकिला की ही बात की है।

13. आपके विचार से स्वतंत्रता सेनानियों और अपराधियों के साथ एकसा व्यवहार क्यों किया जाता होगा?

उत्तर:- ब्रिटिश शासन के अंतर्गत स्वतंत्रता सेनानियों को अपराधी माना जाता था और उनके साथ वैसा ही व्यवहार किया जाता था, जैसा चोर डाकुओं व बटमारों से किया जाता था चोर, डाकू और बटमारों के द्वारा गिने-चुने लोगों की ही धन-संपत्ति छीनी जाती है पर स्वतंत्रता सेनानी तो अंग्रेज सरकार को ही निर्मूल कर देना चाहते थे। अंग्रेज भारत पर अपना शासन कायम रखना चाहते थे और इसीलिए वे क्रांतिकारियों को कैद करके व उन्हें अपराधी बताकर उनके हौसलों को तोड़ देना चाहते थे और उनकी उठती विरोधी आवाज़ को दबा देना चाहते थे।

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitiz Chapter 12 कैदी और कोकिला  Download in PDF

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.