NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kritika Chapter – 1 इस जल प्रलय में

By | February 10, 2021

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitiz Chapter 1 इस जल प्रलय में यहाँ सरल शब्दों में दिया जा रहा है|  NCERT Hindi book for class 9 Kritika Solutions के Chapter 1 इसजल प्रलय में को आसानी से समझ में आने के लिए हमने प्रश्नों के उत्तरों को इस प्रकार लिखा है की कम से कम शब्दों में अधिक से अधिक बात कही जा सके| इस पेज में आपको NCERT solutions for class 9 hindi Kritika

दिया जा रहा है|

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kritika Chapter 1 इस जल प्रलय में

प्रश्नअभ्यास

1.बाढ़ की खबर सुनकर लोग किस तरह की तैयारी करने लगे?

बाढ़ की खबर सुनकर लोग किस तरह की तैयारी

उत्तर:- बाढ़ की खबर से सारे शहर में आतंक मचा हुआ था। सारे दुकानदार अपना सामान रिक्शा , टमटम , ट्रक , और टेम्पो पर लादकर सुरक्षित स्थानों पर ले जा रहे थें। खरीद बिक्री बंद हो चुकी थी। लोग घरों में खाने का समान , दयासलाई , मोमबत्ती , दवाइयाँ , किरोसिन आदि का प्रबन्ध करने में लगे हुए थे। लोग अपने सामान को ऊपरी मंजिल में ले जा रहे थे।

2. बाढ़ की सही जानकारी लेने और बाढ़ का रूप देखने के लिए लेखक क्यों उत्सुक था?

उत्तर:- लेखक ने अवश्य ही बाढ़ पर अनेक प्रकार के लेख लिखे थे, परंतु उन्होंने कभी बाढ़ का भयानक व विनाशकारी दृश्य नहीं देखा था; इसीलिए उनमें बाढ़ के दृश्य को लेकर स्वाभाविक जिज्ञासा और उत्सुकता थी। और इसी कारण शहर में दाखिल होता हुआ बाढ़ का पानी उन्हें अद्भुत प्रतीत हुआ।

3. सबकी ज़बान पर एक ही जिज्ञासा– ‘पानी कहां तक आ गया है?’ –इस कथन से जनसमूह की कौनसी भावनाएं व्यक्त होती है?

उत्तर:- इस कथन में जनसमूह के मन में एक ऐसी जिज्ञासा होती हैं जिसमें डर समाया होता है ताकि लोग बाढ़ के पानी से अपनी रक्षा कर सकें और जरूरत का सामान इकट्ठा कर सकें और आने वाले खतरे का आकलन कर सकें।

4. ‘मृत्यु का तरल दूत’ किसे कहा गया है और क्यों?

उत्तर:-: बाढ़ के लगातार बढ़ते जल को ‘मृत्यु का तरल दूत’ कहा गया है। बाढ़ के इस आगे बढ़ते हुए जल ने न जाने कितने प्राणियों को उजाड़ दिया था, बहा दिया था और बेघर करके मौत की नींद सुला दिया था। इस तरल जल के कारण लोगों को मरना पड़ा, इसलिए इसे मृत्यु का तरल दूत कहना बिल्कुल सही है।

5. आपदाओं से निपटने के लिए अपनी तरफ से कुछ सुझाव दीजिए।

उत्तर:- आपदाओं से निपटने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:-

1-नाले-नालियों की प्रतिवर्ष समुचित सफ़ाई की जानी चाहिए।

2-नालों में पॉलीथीन की थैलियाँ आदि बहकर नहीं जाने देना चाहिए।

3-आम आदमी को भी मौसम संबंधित व आपदाओं की जानकारी रखनी चाहिए।   

4- लोगों को आपदाओं की पूर्ण जानकारी जितनी जल्दी हो सके मिल जानी चाहिए।

5- सरकार को राहत-सामग्री का भंडारण पहले से रखना चाहिए।.

6- सरकार को अधिक-से-अधिक राहत-कर्मियों व चिकित्सकों को आपदा वाले क्षेत्र के लिए नियुक्त कर देना चाहिए।

7-. लोगों को जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी सुरक्षित जगहों पर चले जाना चाहिए।

6. ‘ईह! जब दानापुर डूब रहा था तो पटनियां बाबू लोग उलटकर देखने भी नहीं गए…..अब बूझो!’ –इस कथन द्वारा लोगों की किस मानसिकता पर चोट की गई है ?

उत्तर:- पटना में बाढ़ का पानी भरता जा रहा था तभी बाढ़ देखने की उत्सुक भीड़ में से एक युवक ने कहा कि यहाँ तो सब तमाशा देखने आ गए हैं किंतु जब दानापुर डूब रहा था पटनिया बाबू लोग उसे देखने भी नहीं आए थे। इस कथन के माध्यम से पटना के लोगों की स्वार्थपरता, संकुचित मानसिकता, संवेदनहीनता, आत्म-केंद्रियता पर चोट की गई है। दानापुर जब डूब रहा था तब पटना के लोगों ने वहाँ के लोगों की सहायता नहीं की थी।

इस पेज में आपको NCERT solutions for class 9 hindi Kritika दिया जा रहा है| हिंदी स्पर्श के दो भाग हैं | Hindi Kritika स्पर्श भाग 1 सीबीएसई बोर्ड द्वारा class 9th के लिए निर्धारित किया गया है | इस पेज की खासियत ये है कि आप यहाँ पर ncert solutions for class 9 hindi Kritika pdf download भी कर सकते हैं| we expect that the given class 9 hindi Kritika solution will be immensely useful to you.

7. खरीदबिक्री बंद हो चुकने पर भी पान की बिक्री अचानक क्यों बढ़ गई थी?

उत्तर:- खरीद-बिक्री बंद होने पर भी पान की बिक्री अचानक इसलिए बढ़ गई थी क्योंकि बाढ़ के समय कोई काम-धंधा नहीं चल रहा था और खाली बैठे लोग वहां बाढ़ देखने आए थे और उस पर चर्चा कर रहे थे। वहां कोई भी परेशान या भयभीत नहीं था, लोग हंस बोल रहे थे, बल्कि आज कुछ ज्यादा उत्साहित थे क्योंकि उनके पास तो गप्पे मारने के लिए एक नया विषय था।

8. जब लेखक को यह एहसास हुआ कि उसके इलाके में भी पानी घुसने की संभावना है तो उसने क्याक्या प्रबंध किए?

उत्तर:- जब लेखक को अहसास हुआ की उसके इलाके में भी पानी घुसने की संभावना है तो उन्होंने आवश्यक ईंधन, आलू, मोमबत्ती, दियासलाई, पीने का पानी, कम्पोज की गोलियाँ इकट्ठी कर लीं ताकि बाढ़ से घिर जाने पर कुछ दिनों तक गुजारा चल सकें। उन्होंने बाढ़ आने छत पर चले जाने का भी प्रबंध सुनिश्चित कर लिया

9. बाढ़ पीड़ित क्षेत्र में कौनकौन सी बीमारियों के फैलने की आशंका रहती है?

उत्तर:- बाढ़ पीड़ित क्षेत्र में जिन बीमारियों के फैलने की आशंका रहती है उनमें पकाही घाव, हैजा, आंत्रशोथ, मलेरिया जैसी बीमारियाँ प्रमुख हैं।

10. नौजवान के पानी में उतरते ही कुत्ता भी पानी में कूद गया। दोनों ने किन भावनाओं के वशीभूत होकर ऐसा किया?

पानी में उतरते ही कुत्ता भी पानी में कूद गया

उत्तर:-: नौजवान और कुत्ता परस्पर गहरे आत्मीय थे। दोनों एक-दूसरे के सच्चे साथी थे। उनमें मानव और पशु का भेदभाव भी नहीं था। वे एक-दूसरे के बिना नहीं रह सकते थे। यहाँ तक कि नौजवान को कुत्ते के बिना मृत्यु भी स्वीकार नहीं थी। इस व्यवहार से उनकी गहरी मैत्री का परिचय मिलता है।

11. ‘अच्छा है, कुछ भी नहीं। कलम थी, वह भी चोरी चली गई। अच्छा है, कुछ भी नहींमेरे पास।’ –मूवी कैमरा, टेप रिकॉर्डर आदि की तीव्र उत्कंठा होते हुए भी लेखक ने अंत में उपर्युक्त कथन क्यों कहा?

उत्तर:- लेखक को लगता है कि अगर उसके पास ये उपकरण होते तो वह लोगों की प्रतिक्रिया, बाढ़ की विभीषिका, आस पास के माहौल आदि का साक्षात अनुभव नहीं कर पाता और उसका सारा ध्यान बाढ़ के दृश्य को इन उपकरणों के माध्यम से कैद करने पर होता। इसलिए लेखक ने कहा कि अच्छा था कि उसके पास कुछ भी नहीं था ।

12. आपने भी देखा होगा कि मीडिया द्वारा प्रस्तुत की गई घटनाएं कई बार समस्याएं बन जाती है, ऐसी किसी घटना का उल्लेख कीजिए।

उत्तर:- मीडिया का प्रमुख उद्देश्य होता है जनता को जागरुक करना; लेकिन बहुत बार ऐसा होता है कि मीडिया द्वारा प्रस्तुत की गई घटनाएं समस्या बन जाती है। ऐसा तब होता है जब मीडिया ऐसी किसी घटना को क्षेत्र-विशेष, जातिवाद, संप्रदाय या मज़हब से जोड़ देता है। इसका एक उदाहरण है कथुआ में हुआ दुष्कर्म, जिसमें एक मासूम बच्ची के साथ कुछ लोगों ने दुष्कर्म किया; लेकिन मीडिया ने इसे धर्म से जोड़ दिया, जिससे लोगों में फूट पड़ गई और देश में कई जगह हुई हिंसा का यह कारण रही।

13. अपनी देखीसुनी किसी आपदा का वर्णन कीजिए।

उत्तर:- विद्यार्थी स्वयं करें|

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kritika Chapter 1 इस जल प्रलय में हिंदी में आया Download in PDF

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.