NCERT Solutions for Class 10 Hindi Sparsh Chapter – 12 तताँरा-वामीरो कथा

By | March 5, 2021
Class 10 Hindi Sparsh Chapter – 12 तताँरा-वामीरो कथा

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Sparsh Chapter12 तताँरा-वामीरो कथा यहाँ सरल शब्दों में दिया जा रहा है| NCERT Hindi book for Class 10 Sparsh Solutions के Chapter 12 तताँरा-वामीरो कथा को आसानी से समझ में आने के लिए हमने प्रश्नों के उत्तरों को इस प्रकार लिखा है की कम से कम शब्दों में अधिक से अधिक बात कही जा सके| इस पेज में आपको NCERT solutions for Class 10 hindi Sparsh

दिया जा रहा है|

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Sparsh Chapter 12 तताँरा-वामीरो कथा

प्रश्न अभ्यास

मौखिक

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एकदो पंक्तियों में दीजिए

1.तताँरावामीरो कहाँ की कथा है?

उत्तर:- तताँरा—वामीरो अंदमान-निकोबार द्वीपसमूह की प्रचलित लोककथा है ।

2. वामीरो अपना गाना क्यों भूल गई?

उत्तर:- वामीरो समुद्र के किनारे गीत गाने में डूबी हुई थी । अचानक समुद्र की लहर के भिगोने पर हड़बड़ाहट में वो अपना गाना भूल गई

3. तताँरा ने वामीरो से क्या याचना की?

उत्तर:-तताँरा ने वामीरो से याचना की कि वह कल भी उसी स्थान पर आए। वह उसकी प्रतीक्षा करेगा।

4. तताँरा और वामीरो के गाँव की क्या रीति थी?

उत्तर:-तताँरा और वामीरो के गाँव की रीति के अनुसार एक गाँव के युवक या युवती का विवाह संबंध दूसरे गाँव में नहीं हो सकता था |

5. क्रोध में तताँरा ने क्या किया?

उत्तर:- क्रोध में तताँरा ने तलवार निकाली और उसे पूरी ताकत से धरती में घोंप दिया और फिर उसे खींचते हुए दूर तक पहुँच गया |।

लिखित

() निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर (25-30 शब्दों में) लिखिए

1.तताँरा की तलवार के बारे में लोगों का क्या मत था?

उत्तर:- तताँरा की तलवार के बारे में लोगों का मत था कि उसकी तलवार लकड़ी की जरूर है ,किन्तु उसमें अद्भुत दैवीय शक्ति विद्यमान है । उसकी तलवार लोगों के लिए एक विलक्षण रहस्य थी ।

2. वामीरो ने तताँरा को बेरुखी से क्या जवाब दिया?

उत्तर:- जब वामीरो ने हड़बड़ाकर अपना गीत बंद कर दिया, तब ततांरा ने उससे अपना गीत पूरा करने की याचना की। इस पर वामीरो ने उसे बेरुखी के साथ जवाब दिया कि पहले वह बताएं कि वह कौन है जो उसे इस तरह घूर रहा है और ऐसा असंगत प्रश्न पूछ रहा है; एवं वह अपने गांव के अलावा किसी और गांव के युवक के प्रश्न का उत्तर देने को बाध्य नहीं है।

3. तताँरावामीरो की त्यागमयी मृत्यु से निकोबार में क्या परिवर्तन आया?

उत्तर:- तताँरा-वामीरो के गाँव वालों में पहले आपसी संबंध नहीं थे। विवाह तो दूर वे आपस में बात भी नहीं करते थे परन्तु इनकी त्यागमयी मृत्यु के बाद दोनों के गाँव में आपसी संबंध बनने लगे और वैवाहिक संबंध भी बनने लगे।

4. निकोबार के लोग तताँरा को क्यों पसंद करते थे?

उत्तर:- तताँरा परिचित और अजनबी सबकी एक जैसी मदद करता था। वह ताकतवर होने के बावजूद बड़ा ही शांत और सौम्य था इसलिए निकोबार के लोग तताँरा को पसंद करते थे।

() निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर (50-60 शब्दों में) लिखिए

1.निकोबार द्वीपसमूह के विभक्त होने के बारे में निकोबारियों का क्या विश्वास है?

उत्तर:-निकोबार द्वीपसमूह के विभक्त होने के बारे में एक दंतकथा प्रसिद्ध है। जब वो एक ही द्वीप हुआ करता था, तब तताँरा नाम के एक युवक को दूसरे गाँव की वामीरो नाम की युवती से प्रेम हो गया। उन दिनों के नियम के अनुसार उनका विवाह होना संभव नहीं था। दोनों के गाँव वाले इसके खिलाफ थे। अपनी असहाय स्थिति देखकर तताँरा को एक दिन इतना गुस्सा आया कि उसने अपनी तलवार से द्वीप को दो टुकड़ों में काट दिया। उसके बाद लोगों की आँखें खुलीं और उन्होंने पुराने नियमों को तोड़ दिया।

2. तताँरा खूब परिश्रम करने के बाद कहाँ गया? वहाँ के प्राकृतिक सौंदर्य का वर्णन अपने शब्दों में कीजिए।

उत्तर:- ततांरा दिनभर के अथक परिश्रम के बाद संध्या के समय समुद्र किनारे टहलने निकलता है। समुद्र किनारे ठंडी-ठंडी हवा बह रही थी। सभी पक्षी अपने-अपने घोंसलों को लौट रहे थे और उनकी चहचहाहट धीरे-धीरे शांत हो रही थी, आसमान में डूबते हुए सूरज की अंतिम रंग-बिरंगी किरणें बहुत मनमोहक लग रही थी। समुद्र तट का ऐसा अद्भुत और सुंदर नज़ारा ततांरा के मन को धीरे-धीरे शांत कर रहा था।

3. वामीरो से मिलने के बाद तताँरा के जीवन में क्या परिवर्तन आया?

उत्तर:-वामीरो से मिलाने के बाद तताँरा के शांत जीवन में हलचल मच गई| वह बेचैन हो उठा| उसके लिए प्रतीक्षा के पल काटने कठिन हो गए| उसे दिन उबाऊ महसूस होने लगा| प्रतीक्षा का पल-पल उसे पहाड़ सा प्रतीत होने लगा | और जब वामीरो उससे मिलने पहुँची तो वह कुछ बोल नहीं पाया …निशब्द रह गया|

4. प्राचीन काल में मनोरंजन और शक्तिप्रदर्शन के लिए किस प्रकार के आयोजन किए जाते थे?

उत्तर:-प्राचीन काल में पशु मेले तथा अन्य मेलों का आयोजन किया जाता था। पशु मेले में पशुओं का प्रदर्शन तो होता ही था  इसके साथ ही युवकों के दंगल तथा शक्ति प्रदर्शन की भी प्रतियोगिताएँ हुआ करती थीं। गाँव के शक्तिशाली विजेता युवक का सम्मान भी किया जाता था। इन मेलों के बाद के भोजन, संगीत और नृत्य का भी आयोजन होता था। सब गाँव वालो इन मेलों में भाग लेते थे। ।।

5. रूढियाँ जब बंधन बन बोझ बनने लगें तब उनका टूट जाना ही अच्छा है। क्यों? स्पष्ट कीजिए।

उत्तर:- रूढ़ियां जब बंधन बन बोझ बनने लगे तब उनका टूट जाना ही अच्छा है, क्योंकि समाज में प्रचलित रीति-रिवाज और कानूनों का निर्माण मनुष्य को बांधने के लिए नहीं, बल्कि समाज को सुधारने के लिए किया जाता है। मनुष्य जीवन और समाज प्रगतिशील है, समय के साथ-साथ हर चीज में बदलाव आ रहा है, हमारा रहन-सहन बदलता जा रहा है और इन सबके साथ-साथ रूढ़ीवादी विचारधाराओं और रीति-रिवाजों में बदलाव लाना भी आवश्यक है। बंधनों में जकड़कर व्यक्ति और समाज का विकास, सुख-चैन, अभिव्यक्ति आदि रुक जाती है।

() निम्नलिखित के आशय स्पष्ट कीजिए

1.जब कोई राह न सूझी तो क्रोध का शमन करने के लिए उसमें शक्ति भर उसे धरती में घोंप दिया और ताकत से उसे खींचने लगा।

उत्तर:- तताँरा – वामीरो दोनों अलग – अलग गाँव के थे । रीतिनुसार दोनों का विवाह नहीं हो सकता था । दोनों रूढ़ियों में जकड़े हुए थे । इसी बात को लेकर तताँरा अत्यधिक क्रोध में था।  इंसान जब आवश होता है तो वह अपना क्रोध दबाने के लिए किसी ऐसी जगह अपना गुस्सा उतरता है जो प्रतिउत्तर न दे सके । सो , क्रोधावेश में उसने अपनी लकड़ी की तलवार धरती में गाड़ दी और उसे खींचते – खींचते दूर तक ले गया । परिणाम स्वरूप ज़मीन दो भागों में विभक्त हो गई ।

2. बस आस की एक किरण थी जो समुद्र की देह पर डूबती किरणों की तरह कभी भी डूब सकती थी।

उत्तर:- प्रस्तुत पंक्तियों में ग्रामीणों की प्रतीक्षा करते हुए तातारा के बेचैन मन की स्थिति का वर्णन किया गया है। उसका मन इसी उधेड़बुन में लगा हुआ था कि वामीरो उससे मिलने आएगी या नहीं। उसे अपने मन की आशा डुबते हुए सूरज की तरह लग रही थी; जो धीरे-धीरे, जैसे-जैसे समय निकल रहा था, वैसे-वैसे सूरज की तरह डूबते जा रही थी।

भाषाअध्ययन

1.निम्नलिखित वाक्यों के सामने दिए कोष्ठक में (✓) का चिन्ह लगाकर बताएं कि वह वाक्य किस प्रकार का है –

() निकोबारी उसे बेहद प्रेम करते थे। (प्रश्नवाचक, विधानवाचक, निषेधात्मक, विस्मयादिबोधक)

() तुमने एकाएक इतना मधुर गाना अधूरा क्यों छोड़ दिया? (प्रश्नवाचक, विधानवाचक, निषेधात्मक, विस्मयादिबोधक)

() वामीरो की माँ क्रोध में उफन उठी। (प्रश्नवाचक, विधानवाचक, निषेधात्मक, विस्मयादिबोधक)

() क्या तुम्हें गाँव का नियम नहीं मालूम? (प्रश्नवाचक, विधानवाचक, निषेधात्मक, विस्मयादिबोधक)

() वाह! कितना सुंदर नाम है। (प्रश्नवाचक, विधानवाचक, निषेधात्मक, विस्मयादिबोधक)

() मैं तुम्हारा रास्ता छोड़ दूँगा। (प्रश्नवाचक, विधानवाचक, निषेधात्मक, विस्मयादिबोधक

उत्तर:- (क). विधानवाचक

(ख). प्रश्नवाचक

(ग). विधानवाचक

(घ). प्रश्नवाचक

(ड़).विस्मयादिबोधक

(च). विधानवाचक

2. निम्नलिखित मुहावरों का अपने वाक्यों में प्रयोग कीजिए –

() सुधबुध खोना

() बाट जोहना

() खुशी का ठिकाना न रहना

() आग बबूला होना

() आवाज उठाना

उत्तर:- (क).अपनी बेटी की मृत्यु का समाचार सुनकर लीला अपनी सुध-बुध खो  बैठी।

(ख). शाम होते ही रचना अपने बेटे की बाट जोहने लगती है।

(ग). रमा के फर्स्ट आने की खबर सुनकर उसकी और उसके घरवालों की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा।

(घ). रमेश की जरा सी बात कहने पर नरेश आग बबूला हो गया |

(ड़).गाँधी जी ने हमेशा अहिंसा के खिलाफ आवाज उठाई |

इस पेज में आपको NCERT solutions for Class 10 hindi Sparsh दिया जा रहा है| हिंदी स्पर्श के दो भाग हैं | Hindi Sparsh स्पर्श भाग 1 सीबीएसई बोर्ड द्वारा Class 10th के लिए निर्धारित किया गया है | इस पेज की खासियत ये है कि आप यहाँ पर ncert solutions for Class 10 hindi Sparsh pdf download भी कर सकते हैं| we expect that the given Class 10 hindi Sparsh solution will be immensely useful to you.

3. नीचे दिए गए शब्दों में से मूल शब्द और प्रत्यय अलग करके लिखिए

चर्चित, साहसिक, छटपटाहट, शब्दहीन

उत्तर:- चर्चित = चर्चा + इत

साहसिक = साहस + इक

छटपटाहट = छटपट + आहट

शब्दहीन = शब्द + हीन

4. नीचे दिए गए शब्दों में उचित उपसर्ग लगाकर शब्द बनाइए

आकर्षक, ज्ञात, कोमल, होश, घटना।

उत्तर:- अन + आकर्षक = अनाकर्षक

अ + ज्ञात = अज्ञात

सु + कोमल = सुकोमल

बे + होश = बेहोश

दुर् + घटना = दुर्घटना

5. वाक्यों को निर्देशानुसार परिवर्तित कीजिए –

() जीवन में पहली बार मैं इस तरह विचलित हुआ हूँ। (मिश्र वाक्य)

() फिर तेज कदमों से चलती हुई तताँरा के सामने आकर ठिठक गई। (संयुक्त वाक्य)

() वामीरो कुछ सचेत हुई और घर की तरफ दौड़ी। (सरल वाक्य)

() तताँरा को देखकर वह फूटकर रोने लगी। (संयुक्त वाक्य)

() रीति के अनुसार दोनों को एक ही गाँव का होना आवश्यक था। (मिश्र वाक्य)

उत्तर:- (क). जीवन में पहली बार ऐसा हुआ कि मैं विचलित हुआ हूं।

(ख). वह फिर तेज कदमों से चलती हुई आई और ततांरा के सामने आकर ठिठक गई।

(ग). वामीरो कुछ सचेत होकर घर की तरफ दौड़ी।

(घ). उसने ततांरा को देखा और फूट-फूटकर रोने लगी।

(ड़).रीति के अनुसार यह आवश्यक था कि दोनों एक ही गांव के हों।

6. नीचे दिए गए शब्दों के विलोम शब्द लिखिए

भय, मधुर, सभ्य, मूक, तरल, उपस्थिति, सुखद।

उत्तर:- भयअभय

मधुर – कर्कश

सभ्य – असभ्य

मूक – वाचाल

तरल – ठोस

उपस्थिति – अनुपस्थिति

सुखद – दुखद

7. नीचे दिए गए शब्दों के दो – दो पर्यायवाची शब्द लिखिए

समुद्र, आँख, दिन, अँधेरा, मुक्त।

उत्तर:- समुद्र – सागर, समंदर।

आंख – नयन, नैन।

दिन – दिवस, वार।

अंधेरा – अंधकार, तम

मुक्त – आजाद, स्वतंत्र।

8. नीचे दिए गए शब्दों का वाक्यों में प्रयोग कीजिए –

किंकर्तव्यविमूढ, विहृल, भयाकुल, याचक, आकंठ।

उत्तर:- (क). रजत के उस पर बहुत से एहसान है, इसलिए वह उनके प्रति किंकर्तव्यविमूढ़ है।

(ख). वह अपने भाई को इस हाल में देखकर विहृल हो गई।

(ग). इतना भयानक मंजर देखकर वह भयाकुल हो उठा।

(घ). द्वार पर एक याचक खड़ा है।

(ड़).ईश्वर से उसे बहुत ही मधुर आकंठ की देन मिली है।

9. किसी तरह आँचरहित एक ठंडा और ऊबाऊ दिन गुजरने लगा ‘ वाक्य में दिन के लिए किनकिन विशेषणों का प्रयोग किया गया है? आप दिन के लिए कोई तीन विशेषण और सुझाइए।

उत्तर:- वाक्य में दिन के लिए आँचरहित, एक ठंडा और ऊबाऊ, जैसे विशेषणों का प्रयोग किया गया है।

दिन के लिए कुछ और विशेषण है –

अच्छा, बुरा, उमस भरा, लंबा, नीरस, बड़ा, आदि।

10. इस पाठ में ‘ देखना ‘ क्रिया के कई रूप आए हैं ‘ देखना ‘ के इन विभिन शब्दप्रयोगों में क्या अंतर है? वाक्यप्रयोग द्वारा स्पष्ट कीजिए।

उत्तर:- पाठ में ‘देखना’ क्रिया के प्रयोग हुए रूप —

देखना, नज़र पड़ना, घुरना, आंखें केंद्रित करना, ताकना, निहारना।

पाठ में ‘बोलना’ क्रिया के प्रयोग हुए रूप —

बोलना, कहना, बकना, बतियाना, गप्पे मारना, वार्तालाप करना, चिल्लाना।

11. वाक्यों के रेखांकित पदबंधों का प्रकार बताइए

() उसकी कल्पना में वह एक अद्मुत स्राहसी युवक था।

() तताँरा को मानो कुछ ह्रोश आया।

() वह भागाभागा वहाँ पहुँच जाता।

() तताँरा की तलवार एक विलक्षण रहस्य थी।

() उसकी व्याकुल आँखें वामीरो को हूँढने में व्यस्त थीं।

उत्तर:- (क). विशेषण पदबंध

(ख). क्रिया पदबंध

(ग). क्रिया विशेषण पदबंध

(घ). संज्ञा पदबंध

(ड़).संज्ञा पदबंध

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.